WhatsApp Group से जुड़े
Join Now
Youtube channel से जुड़े Subscribe
Telegram Channel से जुड़े Join Now

 

भारत का मौसम पूर्वानुमान/ जानिए कहां होगी भारी बारिश

Spread the love

भारत का मौसम पूर्वानुमान / weather forecast of India Today : – नमस्कार किसान भाइयों लेकर हाजिर हैं हम आज देशभर का मौसम पूर्वानुमान। मानसून वापिस सक्रिय हो गया है जिसके कारण राजस्थान हरियाणा पंजाब मध्यप्रदेश उत्तरप्रदेश गुजरात उत्तराखंड छत्तीसगढ़ हिमाचल प्रदेश जम्मू कश्मीर में भारी बारिश होगी। रोजाना अपनी मंडी के ताजा भाव अपडेट, फसलों की तेजी मंदी रिपोर्ट मौसम पूर्वानुमान और किसान योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट पर रोजाना विजीट करें और गुगल पर सर्च जरूर करें 👉 Mandi xpert

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

भारत का मौसम पूर्वानुमान, weather forecast of India Today, भारत का मौसम पूर्वानुमान,

राजस्थान सरकार कृषि विषय पढ़ने वाली बेटियों को छात्रवृत्ति योजना 👉 राजस्थान में कृषि विषय पढ़ने वाली बेटियों को मिलेंगे 40000 रुपए

ग्वार भाव तेजी मंदी रिपोर्ट 👉 ग्वार भाव तेजी मंदी रिपोर्ट 2023 / ग्वार भाव भविष्य 2023

मौसम_अपडेट: दोबारा से सक्रिय होगा मॉनसून, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, यूपी औऱ पूर्वी राजस्थान में होगी झमाझम बारिश:

बीते 3 दिनों से मॉनसून की बारिश पर ब्रेक लगे हुए हैं। सिर्फ सीमित इलाकों में बिखरे तौर पर हल्की से मध्यम बरसात की गतिविधियां देखी जा रही है।

अब एक बार फ़िर से मॉनसून सक्रिय होने वाला है। क्योकि बंगाल की खाड़ी से नया Tropical सिस्टम Depression के रूप में छत्तीसगढ़ पर बना हुआ है। जिसके कारण उत्तर भारत में बारिश एक बार फिर से बढेगी। इस सिस्टम से अगले 4 दिन बंगाल, झारखंड, बिहार, मध्यप्रदेश, पूर्वी राजस्थान, उत्तरप्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में मॉनसून सक्रिय स्तिथि में रहेगा।

वहीं पश्चिमी राजस्थान, उत्तर व दक्षिण राजस्थान, गुजरात में मॉनसून बेहद कमजोर रहने वाला है। आने वाले दिनों में इन इलाको में बारिश महज़ कुछ एक जगह होगी। बाकी सभी जगह मौसम लगभग साफ, गर्म ही बना रहेगा।

मौसमी प्रणाली:
● छत्तीसगढ़ पर खाड़ी से आया Depression बना हुआ है। जो अगले 24 घण्टो में आगे बढ़ता हुआ पूर्वी मध्यप्रदेश व साथ लगते दक्षिण पूर्वांचल के इलाकों की तरफ बढेगा।

● Monsoon Axis अमृतसर, करनाल, मेरठ, हमीरपुर, Depression से बीच से होते हुए फिर बालासोर से गुजर रही है।

● एक ताजा लेकिन कमजोर WD उत्तर पाकिस्तान की तरफ बना हुआ है। जिसका प्रभाव सीमित इलाकों में ही होगा।

अगले 4 दिनों का मौसम पूर्वानुमान:

पहाड़ी राज्य:
आज लद्दाख, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश औऱ उत्तराखंड में बरसात बिखरे तौर पर हल्की से मध्यम होगी। कुछ एक जगह भारी बारिश भी होगी।
5, 6, 7 को चारो पहाड़ी राज्यो में कई जगहों पर रुक रुककर हल्की से मध्यम बारिश औऱ कुछ जगह भारी बारिश देखी जाएगी।
उत्तराखंड में भारी बारिश की गतिविधियां बाकी जगहो के मुकाबले ज्यादा देखने को मिल सकती है।

सभी पहाडी राज्यो में 8 अगस्त से बारीश में कमी आएगी। लगभग जगह मॉसम साफ व दोपहर बाद हल्की बारिश होने की उम्मीद है। सिर्फ उत्तराखंड में बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होगी।

9 अगस्त से हिमाचल व उत्तराखंड मे बरसात दोबारा से बढ़ने लगेगी।

पंजाब:
आज राज्य के फाजिल्का, मुक्तसर, भटिंडा, मानसा, फिरोजपुर और फरीदकोट जिले में मौसम लगभग साफ, गर्म औऱ आंषिक बादलवाही वाला रहेगा। दोपहर बाद कुछ एक जगह हल्की बारिश होने की उम्मीद है।
बाकी बचे सभी जिलो में बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होगी। कुछ जगह भारी बारिश भी संभव है।

5 व 6 अगस्त के दौरान भी राज्य के फाजिल्का, मुक्तसर, भटिंडा, मानसा, फिरोजपुर और फरीदकोट जिले में मौसम लगभग साफ, उमस भरी गर्मी औऱ आंषिक बादलवाही वाला ही रहेगा। दोपहर बाद कुछ एक जगह हल्की से मध्यम बौछारे गिरने की उम्मीद है। आगामी Spell पश्चिमी मालवा में ज्यादा बारीश नही देगा।

बाकी बचे पंजाब के सभी जिलो में इस दौरान बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात की गतिविधियां होती रहेगी। कुछ जगह भारी बारिश भी होगी।

7 अगस्त से बारीश ज्यादातर पंजाब से घट जाएगी। सिर्फ हिमाचल प्रदेश से लगते इलाकों में बिखरी हुई बारिश की गतिविधियां बनी रहेगी। बाकी जगह मौसम लगभग साफ, गर्म औऱ आंषिक बादलवाही वाला रहेगा। दोपहर बाद कही-2 हल्की बारिश या बूंदाबांदी हो सकती है।

हरियाणा:
आजराज्य के सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, भिवानी जिले में मौसम लगभग साफ, गर्म औऱ आंषिक बादलवाही वाला रहेगा। दोपहर बाद बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होने की उम्मीद है। कही-2 तेज़ बारिश भी हो सकती है।

वही शेष बचे सभी हरियाणा के जिलो में दिल्ली सहित कल बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होगी। कुछ जगह भारी बारिश की गतिविधियां भी देखी जाएगी।

5, 6 अगस्त को सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, भिवानी, दादरी जिले में बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात की संभावना है।
हरियाणा के बाकी सभी जिलो में 5, 6 अगस्त के दौरान मॉनसून सक्रीय रहेगा। बाकी बचे सभी जिलो में अधिकतर जगह हल्की से मध्यम बारीश होगी। कई जगह भारी बारिश भी संभव है।

5 अगस्त को सोनीपत, पानीपत, झज्जर, गुड़गांव, मेवात, पलवल, फरीदाबाद और दिल्ली में कई जगह भारी बारिश व कही-2 अति भारी बारिश भी संभव है।

7 अगस्त से हरियाणा में मौसम साफ होने लगेगा। हल्की बारिश सिर्फ पंचकूला, यमुनानगर, अंबाला, करनाल तक सीमित रहेगी। बाकी जगह मॉसम साफ औऱ गर्म रहेगा। छिटपुट जगह हल्की बारिश होने की उम्मीद है।

राजस्थान:
आज राज्य के उत्तर श्रीगंगानगर, उत्तर व पूर्वी हनुमानगढ़, पूर्वी चूरू, झुंझुनूं, सीकर, पूर्वी नागौर, पूर्वी जोधपुर, जालोर, सिरोही, राजसमंद, पाली, उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, प्रतापगढ़, चित्तोड़, बून्दी, कोटा, अजमेर, टोंक, जयपुर जिले में कही-2 पर हल्की बारिश होने की उम्मीद है।

अलवर, भरतपुर, धौलपुर, दौसा, करोली, सवाई माधोपुर, बारां औऱ झालावाड़ जिले में कल बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होगी। कुछ जगह भारी बारिश की गतिविधियां भी देखी जाएगी।

दक्षिण श्रीगंगानगर, दक्षिण हनुमानगढ़, पश्चिमी चूरू, बीकानेर, पश्चिमी नागोर, पश्चिमी जोधपुर, जैसलमेर और बाड़मेर में मौसम बिल्कुल साफ, गर्म औऱ आंषिक बादलवाही वाला रहेगा। बारिश की कतई संभावना नहीं है।

5, 6 अगस्त को हरियाणा से सटे हनुमानगढ़, चूरू जिले में बिखरी हुई हल्की बारिश की गतिविधियां देखी जाएगी।

श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू, बीकानेर, नागोर, जोधपुर, जैसलमेर और बाड़मेर में मौसम बिल्कुल साफ, गर्म औऱ आंषिक बादलवाही वाला रहेगा। एक-आध जगह अगर कही सक्रिय बादल बन गया वहां बूंदाबांदी या हल्की बारिश के अलावा कुछ नही होगा।

5 व 6 के दौरान झुंझुनूं, सीकर, जयपुर, अजमेर, भीलवाड़ा, चितोड़, प्रतापगढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, उदयपुर, राजसमंद में बिखरी हुई हल्की बरसात की संभावना है।

वही अलवर, भरतपुर, धौलपुर, दौसा, करोली, टोंक, कोटा, सवाई माधोपुर, बारां औऱ झालावाड़ जिले में कई जगह हल्की से मध्यम बरसात की गतिविधियां होती रहेगी। कुछ जगह भारी बारिश भी देखी जाएगी।

7 अगस्त से सम्पूर्ण राजस्थान में कई दिनों के लिए मॉसम पूर्णतया साफ औऱ गर्म होने लगेगा। बूंदाबांदी या हल्की फुल्की बारिश सिर्फ उदयपुर संभाग में दिन के समय छिटपुट जगह होने की उम्मीद है।

उत्तरप्रदेश:
राज्य में मॉनसून अब लंबे समय तक मेहरबानी करने वाला है। अरसे से पूर्वांचल के सूखे इलाकों में भारी बारिश होने वाली है।

आज झांसी संभाग के जिलो में सभी जगह मध्यम से भारी बारिश होगी। कुछ जगह अति भारी बारिश भी संभव है। कही-2 भारी से अति भारी बारिश भी होगी।
चित्रकूट, प्रयागराज, कानपुर, अलीगढ़, आगरा संभाग के जिलो में कई जगह हल्की से मध्यम बरसात होगी। कुछ जगह भारी बारिश भी होगी। कही-2 अति भारी बारिश भी सम्भव है।

सहारनपुर, मेरठ, मुरादाबाद, बरेली, लखनऊ, वाराणसी, देवीपाटन संभाग के जिलो में कल बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होगी। कुछ जगह भारी बारिश की गतिविधियां भी देखी जाएगी।

वही अयोध्या, बस्ती, आजमगढ़, गोरखपुर औऱ मिर्जापुर संभाग के जिलो में बादलो की आवाजाही के बीच हल्की बारिश की गतिविधियां होगी। कही-२ तेज़ बोछारे भी गिर सकती है।

5 से 6 अगस्त के बीच सहारनपुर, मेरठ, मुरादाबाद, बरेली, देवीपाटन, अलीगढ़, आगरा, लखनऊ, अयोध्या, बस्ती, आजमगढ़, गोरखपुर, कानपुर, झांसी, चित्रकूट, प्रयागराज, वाराणसी, मिर्जापुर संभाग के जिलो में मॉनसून पूरे शबाब पर रहेगा। सम्पूर्ण यूपी में अधिकतर जगहो पर हल्की से मध्यम बारिश की गतिविधियां होगी। कई कह भारी बारिश भी होगी। कही-2 अति भारी बारिश भी संभव है।

7 अगस्त से पश्चिमी उत्तर प्रदेश व बुंदेलखंड से बारीश घटेगी। 7 को सहारनपुर, मुरादाबाद, बरेली व लखनऊ संभाग के जिलो में मॉनसून में बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात बनी रहेगी।

वही देवीपाटन, अयोध्या, बस्ती, आजमगढ़, गोरखपुर, प्रयागराज, वाराणसी, मिर्जापुर संभाग के जिलो में मॉनसून पूरा सक्रिय बना रहेगा। इन इलाकों में अधिकतर जगहो पर हल्की से मध्यम बारिश की गतिविधियां होगी। कई जगहो पर भारी बारिश भी होगी। कही-2 अति भारी बारिश भी संभव है।

8 अगस्त से बारिश ज्यादातर उत्तरप्रदेश पर से घट जाएगी। लेकिन यूपी की सम्पूर्ण तराई बेल्ट सक्रीय मॉनसून की गतिविधियां देखती रहेगी। जो 9 अगस्त से विस्फोटक रूप से दोबारा सक्रीय हो जाएगी औऱ धीरे-2 पश्चिम की तरफ बढ़ेगी।


उत्तर भारत मे अगला बारिश का सक्रीय दौर 10 या 11 अगस्त के आसपास बनने की उम्मीद है। जिसमे यूपी की सम्पूर्ण तराई बेल्ट, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, दिल्ली, पूर्वी हरियाणा, पूर्वी पंजाब, हिमाचल व उत्तराखंड में भारी बारिश होने की उम्मीद है।

क्योकि फ़िलहाल छत्तीसगढ़ पर बना सक्रिय सिस्टम मध्यप्रदेश पर आकर दोबारा से पूर्व में पूर्वांचल तक जाएगा। फिर कमजोर होकर बिहार के पास से चक्रवाती हवाओं के क्षेत्र के रूप में वापिस पश्चिम की तरफ बढेगा।
उम्मीद है यह आगामी सिस्टम 11 अगस्त के आसपास पश्चिमी उत्तर प्रदेश के पास आ सकता है।

बाकी की जानकारी समयानुसार दे दी जाएगी।

भारत का मौसम पूर्वानुमान, weather forecast of India Today,

Don`t copy text!