WhatsApp Group से जुड़े
Join Now
Youtube channel से जुड़े Subscribe
Telegram Channel से जुड़े Join Now

 

खेतों में पाइप लाइन के लिए मिल रही सब्सिडी, जल्दी करें आवेदन, सम्पूर्ण जानकारी

Spread the love

खेतों में पाइप लाइन के लिए मिल रही सब्सिडी / Subsidy available for pipeline in fields : – नमस्कार किसान भाइयों सरकार समय समय पर किसानों के लिए अनेक योजनाएं बनाती है ताकि किसानों को फायदा मिले । आज हम आपको बतायेंगे एक ऐसी योजना जिसमें हरियाणा सरकार किसानों को जमीन में पाइप लाइन दबाने पर सब्सिडी उपलब्ध करवा रही है । । आइए जानते हैं सम्पूर्ण जानकारी और रोजाना अपनी मंडी के ताजा भाव अपडेट फसलों की तेजी मंदी रिपोर्ट मौसम पूर्वानुमान और देश-विदेश की खबरें पाने के लिए गुगल पर सर्च जरूर करें 👉 Mandi Xpert

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

यह भी जाने 👉

dairy farming subsidy 2024 | अब डेयरी खोलने पर मिलेगी 90 प्रतिशत सब्सिडी, ऐसे उठाएं लाभ, जानिए आवेदन प्रक्रिया | viral

नीम से जैविक कीटनाशक बनाने की विधि/ जानिए पूरी प्रक्रिया

खेतों में पाइपलाइन के लिए भी मिल रही सब्सिडी, यहां जल्दी करें आवेदन

चंडीगढ़: हरियाणा सरकार ने किसानों की मदद के लिए एक और बेहतरीन फैसला लिया है। किसानों को अब अपने खेतों में भूमिगत पाइपलाइन लगाने के लिए हरियाणा सरकार से 50% सब्सिडी मिलेगी।

23 अक्टूबर 2023 को हरियाणा सरकार के कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर एक विस्तृत अधिसूचना जारी की गई थी

भूमिगत पाइपलाइन की खरीद पर 50 प्रतिशत से 25,000 रुपये प्रति हेक्टेयर, अधिकतम 60,000 रुपये तक की सब्सिडी दी जाएगी। अनुदान अधिकतम 6 एकड़ भूमि पर दिया जायेगा।

हरियाणा पाइपलाइन सब्सिडी पात्रता।

किसानों का मेरी फसल मेरा ब्योरा पर पंजीकरण होना चाहिए।

योजना का लाभ पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दिया जाएगा।

योजना का लाभ केवल राज्य के स्थायी किसानों को ही दिया जाएगा।

योजना का लाभ उन्हीं किसानों को दिया जाएगा जिनके पास जमीन का मालिकाना हक है।

किसान द्वारा खरीदी गई सामग्री पर ही लाभ दिया जाएगा।

किसान के खेत में सिंचाई के लिए ट्यूब या टैंक होना चाहिए।

खरीदे गए सामान का पक्का बिल होना चाहिए.

फॉर्म भरने के 21 दिन के अंदर खेत में पाइपलाइन लगा देनी होगी.

पाइपलाइन सब्सिडी फॉर्म के लिए दस्तावेज़:-

  1. आधार कार्ड.
  2. परिवार पार्टनर (पीपीपी)।
  3. भूमि विवरण.
  4. सिंचाई का स्रोत.
  5. बैंक खाता.
  6. पैन कार्ड.
Don`t copy text!