WhatsApp Group से जुड़े
Join Now
Youtube channel से जुड़े Subscribe
Telegram Channel से जुड़े Join Now

 

CCI के अनुसार भारत में कॉटन उत्पादन 318.90 लाख गांठ का अनुमान

Spread the love

CCI के अनुसार भारत में कॉटन उत्पादन 318.90 लाख गांठ का अनुमान / According to CCI, cotton production in India is estimated at 318.90 lakh bales : – आज का नरमा कपास भाव, किसान भाइयों CCI ने इस साल का कॉटन उत्पादन अनुमान जारी कर दिया है। गुलाबी सुंडी के प्रकोप से नरमा कपास की फसलों को जबरदस्त नुकसान पहुंचा है जिसके कारण कॉटन उत्पादन घटने की संभावना है। रोजाना अपनी मंडी के ताजा भाव अपडेट फसलों की तेजी मंदी रिपोर्ट और मौसम पूर्वानुमान की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट पर रोजाना विजीट करें और गुगल पर सर्च जरूर करें 👉 Mandi xpert

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

CCI के अनुसार भारत में कॉटन उत्पादन 318.90 लाख गांठ का अनुमान, According to CCI, cotton production in India is estimated at 318.90 lakh bales

आज का मंडी भाव 👉 मंडी भाव 9 अक्टूबर 2023 / नरमा कपास ग्वार सरसों गेहूं चना मूंग भाव

फसल सीजन 2022-23 में 318.90 लाख गांठ कॉटन का उत्पादन अनुमान ।
फसल सीजन 2022-23 में देश में 318.90 लाख गांठ, एक गांठ-170 किलो कॉटन का उत्पादन होने का अनुमान है, जोकि इसके पहले के अनुमान 311.18 लाख गांठ से ज्यादा है। सीजन के अंत में 30 सितंबर 2023 को 28.90 लाख गांठ कॉटन का बकाया स्टॉक बचा है। कॉटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया, सीएआई के अनुसार फसल सीजन 2022-23 अक्टूबर से सितंबर के दौरान देश में 318.90 लाख गांठ का उत्पादन हुआ है, जोकि इसके पहले के अनुमान 311.18 लाख गांठ से 7.72 लाख गांठ ज्यादा है।

सीएआई के अनुसार फसल सीजन 2022-23 में कॉटन का आयात 12.50 लाख गांठ का हुआ है, जोकि पहले के अनुमान 14 लाख गांठ की तुलना में 1.50 लाख गांठ कम है। कॉटन का आयात इसके पिछले फसल सीजन की तुलना में 2.50 लाख गांठ कम हुआ है। कॉटन का निर्यात फसल सीजन 2022-23 में घटकर 15.50 लाख गांठ का ही हुआ है, जोकि पहले के अनुमान से 0.50 लाख गांठ कम है। फसल सीजन 2021-22 में देश से 43 लाख गांठ कॉटन का निर्यात हुआ था, अत: इसके मुकाबले फसल सीजन 2022-23 में 27.50 लाख गांठ का कम निर्यात हुआ है।

फसल सीजन 2022-23 में पंजाब में कपास का उत्पादन 2.75 लाख गांठ, हरियाणा में 11 लाख गांठ, अपर राजस्थान में 18 लाख गांठ तथा लोअर राजस्थान में 11.25 लाख गांठ होने का अनुमान है। अतः: उत्तर भारत के राज्यों में कपास का उत्पादन 43 लाख गांठ होने का अनुमान है। प्रमुख कपास उत्पादक राज्य गुजरात में 94.41 लाख गांठ, महाराष्ट्र 80.71 लाख गांठ एवं मध्य प्रदेश में 19.50 लाख गांठ के उत्पादन का अनुमान है। दक्षिण भारत के राज्यों में तेलंगाना में 30.50 लाख गांठ, आंध्र प्रदेश में 16.40 लाख गांठ एवं कर्नाटक में 22.50 लाख गांठ के अलावा तमिलनाडु में 5.45 लाख कॉटन के उत्पादन का अनुमान है। इसके अलावा ओडिशा में 3.43 लाख गांठ तथा अन्य राज्यों में 3 लाख गांठ कॉटन का उत्पादन होने का अनुमान है।

पहली अक्टूबर 2022 से शुरू हुए चालू फसल सीजन 2022-23 के अंत तक सितंबर 23 के दौरान देशभर की मंडियों में 318.90 लाख गांठ कॉटन की आवक हुई है, जबकि सीजन के आरंभ में 24 लाख गांठ का बकाया स्टॉक था। इस दौरान 12.50 लाख गांठ के आयात को मिलाकर कुल उपलब्धता 355.40 लाख गांठ की हुई। फसल सीजन 2022-23 के अंत में 30 सितंबर 2023 को देशभर में कॉटन का बकाया स्टॉक 28.90 लाख गांठ का बचा हुआ है।

Don`t copy text!