WhatsApp Group से जुड़े
Join Now
Youtube channel से जुड़े Subscribe
Telegram Channel से जुड़े Join Now

 

राजस्थान में आंधी-बारिश ओले / बिजली गिरने से 7 की मौत, कई जगह फसलें खराब, पारा भी लुढ़का

Spread the love

राजस्थान में आंधी-बारिश ओले : – नमस्कार किसान भाइयों पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण 1 मार्च से ही राजस्थान के ज्यादातर क्षेत्रों में अतिवृष्टि और ओलावृष्टि के कारण फसलें चौपट हो गई। जिसके लिए राजस्थान की भजनलाल सरकार ने स्पेशल गिरदावरी के निर्देश दिए हैं। आइए जानते हैं और क्या घोषणा की है। रोजाना अपनी मंडी के ताजा भाव पाने के लिए गुगल पर सर्च जरूर करें 👉 Mandi Xpert

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

आज का मंडी भाव 👉 ताजा मंडी भाव 2 मार्च 2024 / ग्वार चना मूंग मोठ मसूर गेहूं जौ तिल सरसों धान भाव
ग्वार का भाव 👉 ग्वार का भाव 2 मार्च 2024 / जानिए आज ग्वार भाव में कितनी तेजी मंदी रही।

पश्चिमी विक्षोभ ने शुक्रवार को प्रदेश में मौसम की रंगत बदल दी। फाल्गुन मास में बरसात, बादलों की गर्जना और कड़कती बिजलियों से लोग सहम गए। प्रदेश के कई इलाकों में बरसात हुई तो कहीं-कहीं ओले भी गिरे ।

जिससे खेत में खड़ी फसलें खराब हो गई। वहीं आकाशीय बिजली गिरने से पति-पत्नी समेत 7 की मौत हो गई। साथ ही तापमान में भी दो से तीन डिग्री की गिरावट देखने को मिली।

यहां हुआ नुकसान – झालावाड़ जिले में झालरापाटन कृषि उपज मंडी में सरसों, सोयाबीन, मसूर, धनिया आदि की आवक होने से इनके ढेर लगे थे। यहां 45 मिनट तक ओलों के साथ बारिश हुई। इससे किसानों को नुकसान हुआ।

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने शुक्रवार शाम प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर बिजली गिरने से मरने वालों के परिजन को 5-5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए हैं।

इसमें 4-4 लाख रुपए आपदा प्रबंधन एवं राहत विभाग और 1-1 लाख रुपए मुख्यमंत्री राहत कोष से प्रदान किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने अतिवृष्टि, ओलावृष्टि प्रभावित क्षेत्रों में शीघ्र गिरदावरी करवाकर फसलों के खराबे का आकलन कराने के भी निर्देश दिए। प्रदेश में सक्रिय पश्चिम विक्षोभ का असर शुक्रवार दोपहर बाद नजर आया ।

जयपुर, जोधपुर, बीकानेर, अजमेर, भरतपुर, कोटा व उदयपुर संभाग के कुछ हिस्सों में हल्के से मध्यम बारिश के साथ ही 40-50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली। माउंटआबू में भी बादलों के छाने से सर्दी के तेवर नरम रहे। राजधानी में भी शाम को गर्जना के साथ बारिश हुई।

ये भी जाने 👉

मौसम जानकारी 1-3 मार्च 2024 / पश्चिमी विक्षोभ लाएगा जबरदस्त बारिश ओलावृष्टि और अधंड़

श्रीगंगानगर-हनुमानगढ व अनूपगढ़ जिले में 60 खरीद केंद्रों पर होगी सरसों व चना की खरीद

यहां-यहां गिरे ओले:
कोटा के सुल्तानपुर में बारिश के साथ ओले गिरे। केशवरायपाटन क्षेत्र में भी ओले गिरे। बारां के अटरू, अजमेर, पुष्कर, बाड़मेर, श्रीगंगानगर सहित आसपास के हिस्सों में कहीं तेज बौछारें गिरी तो कहीं बूंदाबांदी हुई।

बिजली गिरने से इनकी गईं जान
सवाईमाधोपुर के चौथ का बरवाड़ा में बिजली गिरने से बगीना गांव निवासी राजेंद्र व उसकी पत्नी जलेबी की मौत हो गई। मित्रपुरा तहसील में चरवाहा धन्नालाल की बिजली गिरने से मौत हो गई।

खंडार के रेडावद गांव के पास खेत में बिजली गिरने से सतवीर की मौत हो गई। दौसा के लालसोट में स्कूल से घर लौट रही एक छात्रा के साथ ही अन्य जगह बाइक सवार शाहरुख (30) की बिजली गिरने से मौत हो गई। जयपुर के पास चाकसू में खेत में बिजली गिरने से बीना की मौत हो गई।

आगे क्या… फिर बारिश- ओलों की संभावना
24 घंटे में कुछ स्थानों पर बारिश के साथ ही ओले गिरने की संभावना है। आज बीकानेर, जोधपुर, अजमेर, उदयपुर, कोटा, जयपुर, भरतपुर संभाग के कुछ भागों में बारिश, तेज हवा व कहीं-कहीं ओले गिरने की प्रबल संभावना है।

Don`t copy text!